​Indo-Russian Wheel of Friendship takes a Seventh Round @DLFPS
December, 2017
Home Page For 09 December, 2017
December, 2017

डी.एल.एफ. पब्लिक स्कूल में इंडो-रूसी मैत्री का सातवां चरण सफलतापूर्वक संपन्न

द व्हील ऑफ मैत्री‘ ने अपने सातवें सफल दौर को पूरा किया | डी.एल.एफ. पब्लिक स्कूल में आयोजित “रूसी सांस्कृतिक आदान-प्रदान कार्यक्रम”  संपन्न हुआ। 19 नवंबर से 1 दिसंबर, 2017 तक स्कूल ने 10 रूसी छात्रों के एक समूह जो चेकोस्कर से आये थे, उनकी मेज़बानी की |

रूसी छात्रों ने उत्साहपूर्वक डी.एल.एफ संस्कृति का आनंद लिया, साथ ही साथ अनेक गतिविधियों में भाग भी लिया | उन्होंने पाक कला कौशल, भारतीय नृत्य, मेहंदी कला, मूर्तिकला, मोमबत्ती बनाना, योग, पेंटिंग और शिल्प कला में हिस्सा लेकर अपने प्रवास को यादगार बनाया। ये सभी छात्र राष्ट्रपति हाउस, लोटस मंदिर और अक्षरधाम, आगरा, जयपुर पर इन्होने भारत की सांस्कृतिक विरासत की झलक देखी।

प्रिंसिपल, सीमा जेरथ जी ने रूसी छात्रों की सराहना करते हुए कहा कि, यह एक्सचेंज प्रोग्राम प्रभावशाली रहा तथा इंटरकल्चरल एक्सचेंजों के महत्व पर टिप्पणी भी करी, उनके शब्दों में “शिक्षा अंतरराष्ट्रीय गतिशीलता के बिना पूर्ण नहीं है और सहिष्णुता, लचीलापन और समझौता करने की क्षमता जैसे कौशल की विकसित करना अति आवश्यक हैं | एकजुट होने के लिए हर व्यक्ति को  कुछ समय किसी विदेशी वातावरण में बिताने की जरूरत है ताकि एक शांतिपूर्ण विश्व का निर्माण हो सके। उन्होंने मदर टेरेसा का उदाहरण देते हुए कहा कि हमारे आस-पास शांति समझ व सहनशीलता की कमी हैं और हम भूल चुके हैं कि हम एक-दूसरे के लिए बने हैं।
अतिथि शिक्षक इरीना सारपोलोवा ने अपने प्रवास को एक यादगार अनुभव बताते हुए प्रधानाचार्य तथा पूरी टीम का धन्यवाद किया। उन्हें  कक्षा शिक्षक के लिए प्रयोग किया जाने वाला शब्द  ‘मदर टीचर’ बेहद पसंद आया और उन्होंने इसे रूस में भी अपनाने का फैसला किया  | इस कार्यक्रम में दोनों संस्कृतियों का सुंदर संयोजन को देखने को मिला । ‘शुभकांक्षा’ समारोह ‘हम फिर मिलेंगे’ की भावना के साथ समपन्न हुआ ।
Contact Us
Address:
Sector -II, Rajendra Nagar, Sahibabad, Ghaziabad. 201005 (U.P.)